0

एक बेवफा से प्यार किया, ज़िन्दगी बर्बाद

खुले आसमान के निचे बैठा हूँ …कभी तो बरसात होगी ….. एक बेवफा से प्यार किया हैं तो ज़िन्दगी कभी तो बर्बाद होगी ~ रोबिन श्रीवास

1

दर्द-ए-दिल की दास्तान, फिर भी वाह-वाह

यह ग़ज़लों की दुनिया भी अजीब है; यहाँ आँसुओं का भी जाम बनाया जाता है; कह भी देते हैं अगर दर्द-ए-दिल की दास्तान; फिर भी वाह-वाह ही पुकारा जाता है।

1

क्या प्यार में सोचा था, क्या प्यार में पाया हैं

क्या प्यार में सोचा था, क्या प्यार में पाया हैं, तुझको मिलाने की चाहत में, खुद को मिटाया हैं, इस पर भी कोई इलज़ाम, ना तुझ पर लगाया हैं मेरी ही ख्वाईशो ने, आज मुझे अर्थी पर सुलाया हैं

13

Very very very sad dard shayari on pyar & zindagi

जाने क्यूँ आजकल, तुम्हारी कमी अखरती है बहुत यादों के बन्द कमरे में, ज़िन्दगी सिसकती है बहुत पनपने नहीं देता कभी, बेदर्द सी उस ख़्वाहिश को महसूस तुम्हें जो करने की, कोशिश करती है बहुत दावे करती हैं ज़िन्दगी, जो… Continue Reading

19

वक़्त से मजबूर, हालात से लाचार दर्द शायरी

  ज़िन्दगी के उलझे सवालो के जवाब ढूंढता हु कर सके जो दर्द कम, वोह नशा ढूंढता हु वक़्त से मजबूर, हालात से लाचार हु मैं जो देदे जीने का बहाना ऐसी राह ढूंढता हु

41

आखिर क्यों मुझे तुम इतना दर्द देते हो

  आखिर क्यों मुझे तुम इतना दर्द देते हो जब भी मन में आये क्यों रुला देते हो निगाहें बेरुखी हैं और तीखे हैं लफ्ज़ ये कैसी मोहब्बत हैं जो तुम मुझसे करते हो मेरे बहते आंसुओ की कोई कदर… Continue Reading

Page 1 of 6
1 2 3 4 5 6