0

ज़िन्दगी पर अटल बिहारी वाजपेयी जी की प्रसिद्ध कविता

सच्चाई यह है कि केवल ऊँचाई ही काफ़ी नहीं होती, सबसे अलग-थलग, परिवेश से पृथक, अपनों से कटा-बँटा, शून्य में अकेला खड़ा होना, पहाड़ की महानता नहीं, मजबूरी है। ऊँचाई और गहराई में आकाश-पाताल की दूरी है। जो जितना ऊँचा,… Continue Reading

0

भारतीय जनता के लिए अटल बिहारी वाजपेयी जी की प्रसिद्ध कविता

क़दम मिला कर चलना होगा बाधाएँ आती हैं आएँ घिरें प्रलय की घोर घटाएँ, पावों के नीचे अंगारे, सिर पर बरसें यदि ज्वालाएँ, निज हाथों में हँसते-हँसते, आग लगाकर जलना होगा। क़दम मिलाकर चलना होगा। हास्य-रूदन में, तूफ़ानों में, अगर… Continue Reading

1

पिता पर खूबसूरत कविता

पिता एक उम्मीद है, एक आस है परिवार की हिम्मत और विश्वास है, बाहर से सख्त अंदर से नर्म है उसके दिल में दफन कई मर्म हैं। पिता संघर्ष की आंधियों में हौसलों की दीवार है परेशानियों से लड़ने को… Continue Reading

Dard Bhari Sad Alone Boy Poetry

जो मिला मुसाफ़िर वो रास्ते बदल डाले दो क़दम पे थी मंज़िल फ़ासले बदल डाले आसमाँ को छूने की कूवतें जो रखता था आज है वो बिखरा सा हौंसले बदल डाले शान से मैं चलता था कोई शाह कि तरह… Continue Reading

1

Sad Poem on Garibi | गरीबी सबसे बड़ी सजा

खुशियों को हर कोई बाँट लेता हैं पर किसी के गम को बांटना आसान नहीं होता किसी जरुरतमंद की मदद करना इंसानियत हैं ये किसी पर कोई एहसान नहीं होता परिंदे भी लौट आते हैं आखिर में अपने बसेरे की… Continue Reading

0

True But Sad Diwali Poems on India

आओ दिवाली मनाये हम खुशियों का मौका हैं खुशिया मनाये हम कभी धर्म, कभी जाति, कभी भाषा के नाम पर लड़े हम फिर भी कहते हो दिवाली हैं, आओ हाथ मिलाये हम आओ दिवाली मनाये हम जला के औरो के… Continue Reading

2

ईश्वर का दिया वरदान है माँ

जीवन की शुरुआत हैं माँ, हर लम्हे में साथ हैं माँ, खुशियों की बरसात हैं माँ, डूबती नैया की पतवार हैं माँ, प्यार करे तो दुर्गा हैं माँ, गुस्सा करे तो काली हैं माँ, हर रूप है निराला उसका, चाहे… Continue Reading

4

अगर बस में मेरे होता

आसमान से तारे तोड़ लाता, अगर बस में मेरे होता तेरे कदमो में जन्नत बिछाता, अगर बस में मेरे होता तुझे दुनिया की सेर करा, एक नया ही जहां दिखलाता तेरी राहों में फूल बिछाता, अगर बस में मेरे होता… Continue Reading

2

सुन्दर पंक्तिया – ज़िन्दगी की सिख कविता

घबराने से मसले हल नहीं होते जो आज है, वो कल नहीं होते। ध्यान रखो इस बात का ज़रूर कीचड़ में सब कमल नहीं होते। नफ़ा पहुँचाते हैं जो जिस्म को मीठे अक्सर वो फल नहीं होते। जुगाड़ करना पड़ता… Continue Reading

4

Most Hot Sexy Romantic Seductive Poetry

होंठो पे अपने होंठ रख दूँ आ तुझे मैं प्यार कर लू। साँसों में साँसें घुल जाने दे बाँहों में बाहें मिल जाने दे। दो जिस्म हम, जान एक है इरादे मेरे आज नहीं नेक है। आग लग रही है,… Continue Reading

Page 1 of 5
1 2 3 4 5