3

तनहा मौसम और उदास रात की शायरी

तन्हा मौसम है और उदास ‪‎रात‬ है वो मिल के बिछड़ गये ये ‪‎कैसी मुलाक़ात‬ है, दिल धड़क तो रहा है मगर ‎आवाज़‬ नही है, वो धड़कन भी साथ ले गये ‎कितनी अजीब‬ बात है!

0

एक बेवफा से प्यार किया, ज़िन्दगी बर्बाद

खुले आसमान के निचे बैठा हूँ …कभी तो बरसात होगी ….. एक बेवफा से प्यार किया हैं तो ज़िन्दगी कभी तो बर्बाद होगी ~ रोबिन श्रीवास

Page 1 of 7
1 2 3 4 5 6 7